जानियें भारत के 7 रहस्यमय स्थान के बारें में, विज्ञान भी नहीं सुलझा पाई इन रहस्यों को

प्राचीन समय से ही मनुष्यों की रूचि हमेशा रहस्य खोजने में रही है। और रहस्यमय वस्तुएं और रहस्यमय जगहों जगहों को खोजने के लिए मनुष्य हर बाधाओं से जूझ पड़ते है। रहस्य की सच्चाई खोजना मनुष्यों का पुराना शौक रहा है। पूरी दुनियांभर में हिंदुस्तान में ऐसी बहुत खूबसूरत जगह है, लेकिन वहां ऐसे कई रहस्य छुपे हुये है जिन्हें आज तक नहीं पहचाना जा सका है। भारत में अलग-अलग जगहों में ऐसे कई रहस्य है जो बहुत ही रोचक और किस्से कहानियों से जुड़े हुये है।

उन्ही रहस्यों के बारें में आज हम आपसे चर्चा करने जा रहे है…

उत्तराखंड की रूपकुंड या कंकाल झील…

top-seven-mysterious-of-india

उत्तराखंड की यही झील ग्लेशियर के जरिये से बनी है। इस झील का नाम रूपकुंड झील है और यह कंकाल झील से बहुत ज्यादा मशहूर है। वर्ष 1982 में यहाँ पर एक गार्ड तैनात था, फिर अचानक वह इस झील में पड़े कंकालों के अम्बार पर आ गिरा। इस घटना के पश्चात यूरोप और भारतीय वैज्ञानिकों ने इन कंकालों का पता लगाने की कोशिश की। लेकिन सही पता लगाने में असमर्थ रहे। इन कंकालों का अलग-अलग अनुमान लगाया गया है। अगर माना जाये तो यह कंकाल द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे गए जापानी सैनिकों के कंकाल है। वहीँ दूसरी ओर यह भी अनुमान लगाया जाता है कि, ये कंकाल मुहम्मद तुगलक के सैनिकों के है जब उन्होंने गढ़वाल को जीतने की एक नाकामयाब कोशिश की थी। वहीँ एक ओर यह भी माना जाता है कि, ये कंकाल कश्मीर के जोरावरसिंह और उसके साथियों के है। कार्बन डेटिंग के अनुसार यह कंकाल 12 सदी से लेकर 15 सदी के बीच के इंसानों के है। लेकिन आज भी यह रहस्य बना हुआ है कि, ये कंकालों का ढेर कब के है और किसके है।

आगे पेज में जानिए भारत में हुई खुनी बारिश के बारें में…